कार्मिक एवं वित्त निदेशालय

कार्मिक एवं वित्त निदेशालय

संगठन चार्ट

          कार्मिक एवं वित्त निदेशालय का प्रमुख उप महानिदेशक (कार्मिक एवं वित्त) होता है। यह निदेशालय एनसीसी कार्मिकों के प्रशासनिक, बजट/वित्त संबंधी मामले, स्थापना, राजभाषा, रजिस्ट्री एवं कैडेट कल्याण सोसायटी  (सी.डब्लू.एस.) से संबंधित शासकीय कार्यों की नीतियों एवं दिशानिर्देशों के लिए उत्तरदायी है।

कर्तव्य

बजट एवं वित्त

1.       बजटीय आकलन करना, एन सी सी का आउटकम बजट, वित्तीय आयोग और रक्षा योजना के लिए पंचवर्षीय बजटीय प्रावधान बनाना, एन सी सी के राष्ट्रीय खेलों और गणतंत्र दिवस शिविर के लिए रक्षा मंत्रालय से राशि की संस्वीकृति प्राप्त करना और बजटीय तथा वित्तीय नियंत्रण लागू करना।

2.       राशियों के आवंटन एवं व्यय के लिए नीतियां, दिशा-निर्देश और एस ओ पी बनाना।

3.       ट्रैक/अभियानों और अन्य प्रशिक्षण गतिविधियां जैसे एस एन आई सी, एन आई सी, आर सी टी सी, टी एस सी, एन एस सी, वी एस सी, शैक्षणिक भ्रमण, वाई ई पी, वार्षिक प्रशिक्षण अनुदान, कार्य- सुविधा अनुदान, स्थायी अग्रिम, परिवहन, कार्यालय आकस्मिक अनुदान 17 एन सी सी निदेशालयों, 02 प्रशिक्षण अकादमियों (शिविर खर्च एवं ट्रैक/पर्वतारोहण अभियानों को छोड़कर) के लिए सूचना प्रौद्योगिकी के लिए अनुदान तथा एनसीसी मुख्यालय के लिए कार्यालय आकस्मिक अनुदान के लिए निधि का आबंटन करना।

4.       प्रत्यायोजित शक्तियों के अनुसार कार्यालय आकस्मिक अनुदान के अंतर्गत होने वाले खर्चे के लिए आई.टी. एवं सी.एच.टी. के लिए 17 एनसीसी निदेशालयों, एनसीसी मुख्यालय और 02 अफसर प्रशिक्षण अकादमियों के लिए स्वीकृति प्रदान करना।

5.       डीजीएनसीसी की लोक निधि, गणतंत्र दिवस शिविर और एनसीसी राष्ट्रीय खेल निधियों का रख-रखाव।

6.       एनसीसी कैडेटों/ए.एन.ओ. के विभिन्न भत्ते/अनुदान एवं कैडेटों को दिए जाने वाले प्रोत्साहन आदि की समीक्षा।

7.       डीजीएनसीसी और एनसीसी निदेशालयों, ग्रुप मुख्यालयों, यूनिटों और अफ़सर प्रशिक्षण अकादमियों के अन्य प्राधिकारियों को वित्तीय एवं प्रशासनिक शक्तियां प्रत्यायोजित करने के लिए नीति संबंधी मामले।

कार्मिक

1.       एनसीसी निदेशालयों/प्रशिक्षण स्थापनाओं में तैनात छात्रा कैडेट प्रशिक्षकों सहित केन्द्र सरकार के असैनिक कर्मचारियों के कार्मिक प्रबंधन, भर्ती, तैनाती, स्थानांतरण, पदोन्नति एवं एमएसीपी योजना के अंतर्गत वेतन वृद्धि, अनुशासन, अदालती मामले, वेतन संरचना में सुधार, कार्य/शर्तों में संशोधन, कैडर समीक्षा आदि कार्य करना।

2.       एनसीसी मुख्यालय, राज्य एनसीसी निदेशालयों और अफसर प्रशिक्षण अकादमियों के असैनिक अधिकारियों एवं कर्मचारियों के अस्थायी ड्यूटी संचलन की स्वीकृति प्रदान करना।

3.       डब्लू टी एल ओ और प्रवर श्रेणी लिपिक के पदों के लिए सीमित विभागीय प्रतियोगी परीक्षाओं (एलडीसीई) का आयोजन करना।

4.       संयुक्त परामर्श संगठन (जेसीएम) और असैनिक कर्मचारी एसोसिएशन की तृतीय स्तरीय बैठक का आयोजन।

5.       सांस्कृतिक कार्यक्रमों की निगरानी।

6.       गणतंत्र दिवस शिविर के दौरान कैडेटों के लिए जलपान गृह एवं असैनिक कार्मिकों के लिए भोजनालय की व्यवस्था करना।

7.       एन सी सी निदेशालयों/अफ़सर प्रशिक्षण अकादमियों में (एन सी सी में कैडेट ग्लाइडिंग प्रशिक्षकों और छात्रा कैडेट प्रशिक्षकों सहित) तैनात असैनिक कार्मिकों को गृह निर्माण अग्रिम, मोटर साइकिल अग्रिम, साइकिल अग्रिम की स्वीकृति प्रदान करना।

8.       निजी चिकित्सालयों में करवाए गए इलाज के लिए चिकित्सा प्रतिपूर्ति दावों की स्वीकृति प्रदान करना।

9.       राष्ट्रीय कैडेट कोर दिवस पर राज्य सरकार के कार्मिकों सहित असैनिक कार्मिकों को प्रशंसा-पत्र प्रदान करने की प्रक्रिया पूरी करना।

10.    केन्द्रीय रूप से आयोजित शिविर, गणतंत्र दिवस शिविर, राष्ट्रीय कैडेट कोर राष्ट्रीय खेलों जैसी विभिन्न गतिविधियों के लिए असैनिक कार्मिक एवं छात्रा कैडेट प्रशिक्षक तैनात करना।

11.    सूचना का अधिकार संबंधी मामले।

12.    राष्ट्रीय कैडेट कोर महानिदेशालय के असैनिक कार्मिकों से संबंधित अदालती मामले।

13.    एनसीसी निदेशालयों एवं अफ़सर प्रशिक्षण अकादमियों के केन्द्र सरकार के असैनिक कार्मिकों के अनुशासन एवं सतर्कता संबंधी मामले और सतर्कता संबंधी अनापत्ति प्रदान करना। (राष्ट्रीय कैडेट कोर महानिदेशालय में तैनात असैनिक अधिकारी एवं कार्मिकों के संबंध में अनुशासन एवं सतर्कता के मामले संयुक्त सचिव (प्रशिक्षण) एवं मुख्य प्रशासन अधिकारी के कार्यालय द्वारा देखे जाते हैं।)

स्थापना

1.       राष्ट्रीय कैडेट कोर महानिदेशालय में सशस्त्र सेना मुख्यालय सेवा के असैनिक कार्मिकों की तैनाती एवं उनसे संबंधित सभी प्रशासनिक मामले।

2.       सुरक्षा कार्यालय के जरिए पहचान-पत्र एवं पास जारी करना।

3.       राष्ट्रीय कैडेट कोर महानिदेशालय की केन्द्रीय रजिस्ट्री से संबंधित मामले।

4.       राष्ट्रीय कैडेट कोर महानिदेशालय में कार्यालय आवास से संबंधित सभी मामले।

5.       कार्यालय स्थान का रख-रखाव एवं मरम्मत कार्य कराना।

6.       फ़ुटकर एवं कार्यालय आकस्मिक अनुदान का रख-रखाव।

7.       लेखन सामग्री एवं आधारभूत-संरचना संबंधी कार्य।

8.       गणतंत्र दिवस शिविर एवं राष्ट्रीय कैडेट कोर के राष्ट्रीय खेलों के दौरान जलपान, बागवानी, टी.वी. सेट, मनोरंजन कक्ष, एस.टी.डी. बूथ आदि की व्यवस्था करना।

9.       राष्ट्रीय कैडेट कोर पुस्तकालय से संबंधित सभी कार्य।

10.    राष्ट्रीय कैडेट कोर वेट कैंटीन और राष्ट्रीय कैडेट कोर महानिदेशालय में सांस्कृतिक एवं मनोरंजन क्लब का प्रबंधन।

11.    तीन मूर्ति हाउस पर प्रधानमंत्री चाय कार्यक्रम संबंधी कार्य।

12.    सैन्य अधिकारियों के पार्ट-|| आदेश जारी करना ।

13.    बायोमीट्रिक उपस्थिति प्रणाली की मॉनिटरिंग करना।

14.    सी डी ए के जरिए ओ सी जी बिलों संबंधी कार्य।

15.    गणतंत्र दिवस परेड और बीटिंग रिट्रीट समारोह के लिए अधिकारियों और कैडेटों को पास उपलब्ध कराना ।

16.    नागरिक सुविधाएं, आधारभूत-संरचनाओं के खराब होने एवं बिजली आपूर्ति बाधित होने आदि से संबंधित शिकायतों का निवारण ।

17.    ऑर्डिनेंस डिपो, शकूर बस्ती में अनुपयोगी सामान जमा कराना।

राजभाषा

1.       भारत सरकार की राजभाषा नीति का कार्यान्वयन।

2.       हिंदी के लिए नियमित रूप से बैठक और हिंदी कार्यशालाएं आयोजित करना ।

कैडेट कल्याण सोसायटी (सी डब्ल्यु एस)

1.     एन सी सी की किसी भी गतिविधि के दौरान हुए निधन/चोट के मामलों में राहत या वित्तीय सहायता प्रदान करने के लिए एन सी सी की कैडेट कल्याण सोसायटी की स्थापना सन् 1985 में की गई थी। वर्तमान में इस सोसायटी के उद्देश्य और लक्ष्य इस प्रकार हैं :-    

  • एन सी सी की किसी गतिविधि के दौरान कैडैटों को चोट/अपंगता के मामलें में कैडेट को और मृत्यु के मामले में निकटतम नामित संबंधी को वित्तीय सहायता प्रदान करना ।
  • शैक्षिक रूप से प्रतिभावान छात्रों को छात्रवृत्तियां प्रदान करना और ग्रुप लेवल पर सर्वश्रेष्ठ और द्वितीय सर्वश्रेष्ठ कैडेट पुरस्कार प्रदान करना।
  • लोक निधि के माध्यम से न की जा सकने वाली खेल और साहसिक गतिविधियों का आयोजन करना।
  • अधिक सामाजिक जागरूकता लाने के लिए रैलियां/अभियान/रोड शो आयोजित करना।

2.       कैडेट कल्याण सोसाइटी में द्वि-स्तरीय प्रबंधन प्रणाली है अर्थात् शासी निकाय और प्रबंधन समिति। शासी निकाय का अध्यक्ष अतिरिक्त सचिव होता है तथा यह नीति संबंधी दिशा निर्देश बनाता है एवं प्रबंधन समिति का अध्यक्ष महानिदेशक, एन सी सी होता है जो सोसायटी के दैनिक कार्यों को देखता है।

3.       सोसाइटी की आय केन्द्रीय सरकार/राज्य सरकार द्वारा प्रदत्त आरंभिक अनुदान, सदस्यता शुल्क और मियादी जमा से प्राप्त ब्याज से होती है। वर्तमान में इसकी कुल संग्रहित राशि लगभग 1.41 करोड़ रूपये है।